• Home
  • >
  • गठबंधन की रैली में बोलीं मायावती, प्रधानमंत्री पिछड़ों के नकली नेता, मुलायम असली
  • Label

गठबंधन की रैली में बोलीं मायावती, प्रधानमंत्री पिछड़ों के नकली नेता, मुलायम असली

CityWeb News
Friday, 19 April 2019 07:37 PM
Views 55

Share this on your social media network

मैनपुरी। शुक्रवार को स्थानीय क्रिश्चियन मैदान में आयोजित रैली में करीब 70 हजार की भीड़ को संबोधित करने से उत्साहित मायावती ने कहा कि आपके जोश से ऐसा लग रहा है कि आप सपा संरक्षक को रिकॉर्डतोड़ वोटों से जीत दिलाएंगे। इसके बाद 2 जून 1995 को हुए गेस्ट हाउस कांड का जिक्र करते हुए बोलीं कि आप इसके बारे में जानना चाहते हैं, लेकिन मैं समय बर्बाद न करते हुए इतना कहूंगी कि देशहित में हमें ऐसे कठिन फैसले लेने पड़ते हैं। इसीलिए ये गठबंधन भी बना है।
बसपा सुप्रीमो ने कहा कि इसमें संदेह नहीं कि मुलायम जी ने समाजवादी बैनर तले अपनी पार्टी में कई पिछड़ी जातियों को जोड़ा है। वे मोदी जी की तरह नकली रूप से पिछड़े वर्ग के नहीं हैं, बल्कि जन्मजात और असली पिछड़े वर्ग के नेता हैं। उन्होंने मैनपुरी को विकसित किया है। मैनपुरी से इस विशेष लगाव के चलते उम्र के तकाजे के बाद भी आखिरी सांस तक इस सीट की सेवा का संकल्प उन्होंने लिया है।
मायावती ने प्रधानमंत्री को निशाना बनाते हुए कहा कि उन्होंने गुजरात के चुनावों में अगड़े होने का लाभ लिया था, लेकिन पिछड़ों के लिए लाखों नौकरी के पद खाली हैं, जिन पर अभी तक भर्ती नहीं की गई। उनमें काफी बेरोजगारी है। इस चुनाव में असली-नकली पिछड़ों की पहचान करना और सावधानी बरतना जरूरी है। अब धोखा खाने की जरूरत नहीं। मेरठ की रैली में मोदी ने हमारे गठबंधन के बारे में अनाप-शनाप बोला था, उन्हें पूरे जोरशोर से जवाब देना है। भाजपा आरएसएसवादी और नाटकबाजी, जुमलेबाजी करने वाली पार्टी है। अब उनकी नई चौकीदारी की नाटकबाजी बचा नहीं पाएगी। चाहे कितने ही छोटे-बड़े चौकीदार ताकत क्यों न लगा लें।
2014 के चुनाव में भाजपा और मोदी ने कहा था कि 100 दिन में काला धन लाकर परिवार के हर व्यक्ति को 15-20 लाख रुपये दिए जाएंगे। ऐसा हुआ क्या। इसलिए ऐसे प्रलोभनों के बहकावे में न आएं और सबक सिखाएं। दो चरण के चुनाव में भाजपा की हवा खराब हो गई है। आगे के चरणों में उसमें इनकी हालत बहुत ज्यादा खराब हो जाएगी।
माया ने कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस लंबे समय तक सत्ता में रही, लेकिन वायदे पूरे नहीं किए। इसलिए सत्ता से बाहर हुई। इस समय कांग्रेस पूरे देश में घूम-घूमकर गरीब लोगों को आर्थिक मदद की बात कह रही है। इस थोड़ी मदद से आपका भला नहीं होने वाला। अगर हम पावर में आए तो बेरोजगारों को स्थायी नौकरी उपलब्ध कराएंगे। मायावती ने अंत में अखिलेश को मुलायम का एकमात्र उत्तराधिकारी बताते हुए कहा कि वे पूरी निष्ठा से उनकी विरासत को संभाले हुए हैं। इनका जोशोखरोश से साथ दीजिए। अंत में जय भीम, जय लोहिया और जय भारत बोलकर और अखिलेश को मंच पर बुलाकर उन्होंने भाषण का समापन किया।

ताज़ा वीडियो


PM Narendra Modi Rally in Saharanpur
Ratio and Proportion (Part-1)
More +

संबंधित ख़बरें

Copyright © 2010-16 All rights reserved by: City Web